Jijaji Chhat Par Koi Hai Written Update Episode 22

Jijaji Chhat Par Koi Hai Written Update Episode 22

Jijaji Chhat Par Koi Hai Written Update Episode 22, jijaji chhat par koi hai new episode aaj ke episode mai band kamre ka darwaja khula lekin.

 

आज के एपिसोड मैं पुलिस ऊपर जीजा के घर जाती है और जीजा के सामने हथकड़ी रखे के कहती है.    लेकिन जब जीजा पूछता है की मेरा गुनाह क्या है तो पुलिस केन्टी है की भाई तेरे पड़ोसियों ने गहने चोरी होने का शक तुझपे जताया है तो इस हिसाब से हमें तेरे घर की तलाशी लेनी पड़ेगी।

पुरे घर का कोना कोना ढूढ़ने के बाद भी जब गहने नहीं मिलते तो सब नीचे आते है तो टीटू अंकल पुलिस से पूछते है की आपने इसे हथकड़ी क्यों न पहनाई तो इंस्पेक्टर कहता है की भाई घर मैं कुछ नहीं मिला तो बिना सबूत हम किसी को गिरफ्तार नहीं कर सकते. हमें जैसे ही कुछ पता चलेगा तो हम आपको इन्फॉर्म करेंगे।

सीपी कहती हो सकता है इन्होने गहने कही और छुपा दिए हो इस वजह से आपको नहीं मिल रहे है।

तभी हवलदार इंस्पेक्टर से कहता है की शायद गहने उस बंद कमरे मैं छुपाये हो सभी डर  जाते है और उस कमरे को खोलने के लिए मना  करते है।

लेकिन इंस्पेक्टर उस कमरे की चाबी मांगता है लेकिन वो किसी के पास नहीं होती तो इंस्पेक्टर कहता है ठीक है भाई ताला तोड़ो सब लोग मन करते है तो वो चाभी वाले को बुलाते है सुबह से शाम हो जाती है लेकिन वो ताला खुलने का नाम ही नहीं लेता तो फाइनली इंस्पेक्टर ताला तोड़ने के लिए बोलता है और उसी वक़्त वो ताला खुल जाता है।

इंस्पेक्टए और हवलदार अंदर जाते है लेकिन वहा पुराना  कबाड़े का सामान और धूल मिटटी के अलावा कुछ नहीं होता.

उसके बाद वो चाबी वाला उस कमरे को बंद करके चाबी जल्दीराम को दे के चला जाता है। सभी लोग खुश होते है की चलो हम बेवजह डर रहे थे की पता नहीं इस कमरे मैं क्या है आज पता चल गया की कुछ नहीं है ,सभी चैन की सास लेते है की तभी फिर से उस बंद कमरे से गाने की आवाज आने लगती है और अंदर से कोई उस दरवाजे को खोलने की कोशिश करता है जिससे सभी डर  के मारे भाग जाते है।

दूसरे दिन सुबह फिर जल्दीराम और नन्हे के बीच मैं थोड़ी फाइट हो रही होती है की तभी पुलिस आती है और कहती है की तुम लोगो की वजह से आस पास के लोगो ने शिकायत की है की तुम लोग दिन भर एक दूसरे को गालियां देते है जिससे उनके बच्चे बिगड़ रहे है ,मैं अपना हवलदार यहाँ छोड़ के जा रहा हूँ अब हर एक गाली पे तुम लोगो को ५०० रूपीस का फिना भरना पड़ेगा।

किचन मैं सोफ़िया बहुत गुस्से मैं होती है की पड़ोसियों ने हमारा दूध चुरा लिया और इस कारन सीपी जीजा से लड़ने जाती है और फिर दोनों एक दूसरे पे गालियों की बौछार कर देते है और वो हवलदार सीपी का ४००० और जीजा का ४५०० का चलन फाड् के उनके हाथ मैं थमा देता है तब तक इन दोनों को पता ही नहीं होता है की उनके ऊपर इस तरह की कोई पनिशमेंट लगायी गयी है।

 

अपकमिंग एपिसोड :-

टीटू अंकल और सोफ़िया को भिकारी के डिस्गाइज़ मैं दिखाया गया है जानेंगे कल के एपिसोड मैं क्या होता है कल

 

Read More

 

Add a Comment

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.