Jijaji Chhat Par Koi Hai Ep 53

Jijaji Chhat Par Koi Hai 02 August 2021 Written Update

Jijaji Chhat Par Koi Hai 02 August 2021 Written Update In Hindi | Jijaji Chhat Par Koi Hai  Episode 53 By Moreshanaya

 

मयूरी बड़े ध्यान से उस भूतिया पेंटिंग को देखती है तभी सीपी आती है और पूछती है की क्या देख रहे हो आप ?

मयूरी सीपी से पूछती है की सीपी तुमने कभी सोचा की तुम्हारी तस्वीर इस पेंटिंग मैं  क्यों है कब बनवायी तुमने ये पेंटिंग।

सीपी बताती है की ये पेंटिंग मैंने नहीं बनवायी है ,एक पेंटर था जिससे मैं ये पेंटिंग बनवाना चाहती थी लेकिन जब मैं बनवाने गयी तब तक वो ये पेंटिंग बना चूका था उसने मुझसे कहा की मैं खुद गयी थी ये पेंटिंग बनवाने ,लेकिन मैं तो वह गयी नहीं थी। मुझे ये पेंटिंग अच्छी लगी इसलिए मैं इसे घर ले आयी ।

मयूरी कहती है या तो तुम्हारी हमशकल गयी होगी या फिर कोई और चक्कर है।

सीपी कहती है की अगर मेरी कोई हमशकल होती तो किसी ने उसे देखा होता और वो उसी पेंटर के पास क्यों जाती पेंटिंग बनवाने ,और वो पेंटिंग लेने तो आती क्यूंकि पेंटिंग तो मैं ले आयी।

मयूरी कहती है ऐसे बहुत सरे सवाल जिनका जवाब बाकि है और वो हमें आज रात  को मिलेगा।

सीपी कहती है आज सरे जवाब मिल जाये मेरी ग्रैंड भी गायब है बस वो सही सलामत हो।

मयूरी कहती है मुझे पता नहीं क्यों ऐसा लगता है इन सब बातों के तर तुमसे जुड़े हुए है लेकिन अभी सबसे इम्पोर्टेन्ट ये है की तुम्हे कुछ नहीं होना चाहिए।

मयूरी अपने पास से काला धागा निकलती है और सीपी के हाथ पे बांधती  है  की ये धागा अभिमंत्रित है और मुझसे कनेक्टेड है। जब मयूरी सीपी के हाथ मैं धागा बांध रही होती है तभी उसे अपने पास एक साये का एहसास होता है और जैसे ही वो परछाई को देखती है वो साया गायब हो जाता है।

मयूरी सीपी को बताती है की ये जो भी शक्ति है वो हमें देख रही है ,वो घबराई हुई है लेकिन हो न हो आज रात उसका खत्म होने वाला है।

भूतनी गुस्स्से मैं बैठी हुई दिखती है ……………..।

दूसरी तरफ जल्दीराम और नन्हे की हसी ठिठोली चलती है ,जल्दीराम कहता है की नन्हे मैंने तेरे लिए छोले भठूरे बनाये है ,जैसे ही वो थाली का ढक्कन उठाते है वह पे एक कटा हुआ हाथ देख के डर के भाग जाते है।

किचन मैं मयूरी ,सोफ़िया और बिजली कॉलेज के ज़माने की बातें करते है ,दूसरी तरफ जीजा सीपी के कमरे मैं जा के उसे हँसाने की कोशिश करता है ,वो सीपी को अपने बचपन की फोटो दिखता है।

तभी अचानक से उसे भूतनी दिखती है वो डर जाता है ,जीजा सीपी को घडी गिफ्ट करता है और अपने हाथ से सीपी के उसी हाथ मैं पहनाता है जिस हाथ पे मयूरी ने धागा बांधा था।

जीजा सीपी से कहता है की मैं तेरे लिए भी कुछ लाया हूँ ,उस दिन तूने मेरी जान बचायी न तो तुझे थैंक यू बोलने के लिए मैं ये घडी लाया हूँ और तभी उसे भूतनी दिखती है बेड  के पास वो डर जाता है और इधर उधर देखने लगता है।

फिर सीपी से कहता है की तू अपना हाथ दे मैं पहनाता हूँ ,जीजा उस धागे के ऊपर ही घडी पहनाता है तभी मयूरी को उस धागे की वजह से सिग्नल्स मिलते है और वो सीपी के कमरे मैं जाते है।

मयूरी सीपी के कमरे मैं जाती है और उसे कुछ एहसास होता है और वो कहती है की धीरे धीरे सब कुछ साफ़ होता जा रहा है ,इस घर मैं आने वाली साडी प्रोब्लेम्स की जड़ तुम दोनों हो।

जीजा कहता है की नहीं हम दोनों तो सिर्फ हसी मजाक कर रहे थे इस घर मैं जो भी होता है उसका सारा क्रेडिट उस शैतानी शक्ति को जाता है। सीपी कहती है की पहले तो हम दोनों बहुत लड़ते थे अभी अभी हम दोस्त बनने लगे है।

मयूरी कहती है की हां मैं देख प् रही हूँ की जैसे जैसे तुम दोनों करीब आ रहे हो उस शैतान शक्ति का दखल बढ़ता जा रहा है। आज रात  विधि के बाद सरे सवालो का जवाब मिलेगा।

बस इतना यद् रखना की इन सारी प्रॉब्लम की जड़ तुम दोनों हो।

फिर सब खाना खाने बैठते है , खाने मैं सोफ़िया और बिजली ने जलन के मरे इतनी मिर्ची दाल देती है की दोनों की हालत ख़राब हो जाती है।

उसके बाद  मयूरी बताती है की हम कैसी विधि करने वाले है ………।

 

Also Read :-

 

 

 

 

Add a Comment

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.